Type Here to Get Search Results !

ज़िन्दगी के रंग कई रे लिरिक्स | आशा भोंसले,आदमी और इंसान 1969

 

ज़िन्दगी के रंग कई रे
साथी रे ज़िन्दगी के रंग कई रे
ज़िन्दगी के रंग कई रे
साथी रे ज़िन्दगी के रंग कई रे

ज़िन्दगी दिलो को कभी जोड़ती भी है
ज़िन्दगी दिलो को कभी तोड़ती भी है
ज़िन्दगी दिलो को कभी तोड़ती भी है
ज़िन्दगी के रंग कई रे
साथी रे ज़िन्दगी के रंग कई रे

ज़िन्दगी की राह में ख़ुशी के फूल भी
ज़िन्दगी की राह में गमो की धूल भी
ज़िन्दगी की राह में गमो की धूल भी
ज़िन्दगी के रंग कई रे
साथी रे ज़िन्दगी के रंग कई रे

ज़िन्दगी कभी यक़ी कभी गुमान है
हर क़दम पे तेरा
मेरा इम्तहान है
ज़िन्दगी के रंग कई रे
साथी रे ज़िन्दगी के रंग कई रे
ज़िन्दगी के रंग कई रे
साथी रे ज़िन्दगी के रंग कई रे.